शुक्रवार, 29 जुलाई 2011

इंतज़ार


कृपया पढ़ने के लिए चित्र पर क्लिक करें। चित्र के पूरा आने पर उसे ज़ूम करने के लिए एक बार और क्लिक करें।

3 टिप्‍पणियां:

  1. bahut hi gudh abhivyakti .... yadi aap mere agle sanchayan sangrah mein shamil hona chahen to rasprabha@gmail.com per sampark karen ....

    उत्तर देंहटाएं
  2. कमसेकम प्यार तो बांटा ही जा सकता है....
    बहुत अच्छी अभिव्यक्ति...

    उत्तर देंहटाएं
  3. हार्दिक धन्यवाद आपका रश्मि जी एवं वीना जी...

    उत्तर देंहटाएं